Current Affairs
Hindi
Share

मोहन बागान के जेजे लालपेखलुआ भारतीय फुटबॉल खिलाड़ी संघ द्वारा सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित

पेशेवर फुटबॉल क्लब मोहन बागान एवं भारत के स्ट्राइकर जेजे लालपेखलुआ को भारतीय फुटबॉल खिलाड़ी संघ (एफपीएआई) द्वारा मुंबई में 25 अप्रैल 2016 को आयोजित कार्यक्रम के दौरान सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी पुरस्कार से सम्मानित किया गया.
लालपेखलुआ को फुटबॉल प्रेमियों से सर्वाधिक वोट प्राप्त हुए, उन्होंने वोटिंग में भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री, बिकाश जेरु, डेविड लारिनमुआना एवं धनचंद्र सिंह को पछाड़ते हुए यह पुरस्कार जीता. 
पूर्वी बंगाल के लिए आई-लीग में खेलने वाले नाईजीरिया के स्ट्राइकर रंति मार्टिंस को सर्वश्रेष्ठ विदेशी खिलाड़ी के पुरस्कार से सम्मानित किया गया.
आई लीग विजेता बेंगलुरु एफसी टीम में खेलने वाले मणिपुर में जन्मे उदांता सिंह को यंग प्लेयर ऑफ़ द इयर पुरस्कार प्राप्त हुआ. बेंगलुरु एफसी के कोच एशली वेस्टवुड को कोच ऑफ़ द इयर पुरस्कार प्रदान किया गया.देबजीत मजुमदार को फैन्स प्लेयर ऑफ़ द इयर पुरस्कार प्राप्त हुआ.
•    7 जनवरी 1991 को मिज़ोरम में जन्में जेजे लालपेखलुआ एक भारतीय फुटबॉल खिलाड़ी हैं जो इंडियन सुपर लीग में चेन्नइयन टीम के लिए खेलते हैं.
•    उन्होंने सैफ (एसएएफएफ) कप में अफगानिस्तान के खिलाफ खेलते हुए एकमात्र गोल किया था. 
•    उन्होंने श्रीलंका में आयोजित दक्षिण एशियन खेलों में अंडर-19 टीम का प्रतिनिधित्व किया.
•    मोहन बागान एथलेटिक क्लब कोलकाता का एक पेशेवर फुटबॉल क्लब है.
•    इसकी स्थापना 1889 में भूपेन्द्र नाथ बोस द्वारा की गयी, यह भारत का सबसे पुराना फुटबॉल क्लब है.
•    भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी एवं अखिल भारतीय फुटबॉल संघ द्वारा इसे 1989 में भारतीय राष्ट्रीय क्लब की उपाधि दी गयी.

Read More
Read Less
Share

पूर्व वित्त मंत्री क्लेमेंट मौंबा कांगो के प्रधानमंत्री के रूप में नियुक्त

 कोंगो के पूर्व वित्त मंत्री मौंबा क्क्लेमेंट को 24 अप्रैल 2016 कांगो के प्रधानमंत्री के रूप में नियुक्त किया गया था। 
क्लेमेंट 25 अक्टूबर, 2015 संविधान के अनुसार राष्ट्रपति के परामर्श से सरकार बनाने के लिए जिम्मेदार होंगे .
सस्सोऊ न्गुएस्सो ने कोंगो का नेतृत्त्व 1979 और 1992 के बीच किया और 1997 में गृह युद्ध के बाद सत्ता में लौट आए।
केंद्रीय अफ्रीकी देश चुनाव के बाद से राजनीतिक हिंसा से ग्रसित है .
• इससे पहले 1992 और 1993 के बीच, क्लेमेंट ने वित्त मंत्री के रूप में सेवा की है।
• उन्होंने सरकार में एक बार विपक्ष के नेता के रूप में देश की सेवा की है।
• वो एक अर्थशास्त्री और मध्य अफ्रीकी राज्यों के बैंक (BEAC) के पूर्व अधिकारी भी रह चुके हैं जहाँ 1980 के दशक में उन्होंने  देश में कई वित्तीय संस्थानों का नेतृत्व किया।
• वो पहले विपक्षी सामाजिक लोकतंत्र के लिए पैन-अफ्रीकी संघ के एक वरिष्ठ सदस्य थे लेकिन एक संवैधानिक जनमत संग्रह में भाग लेने के कारण 2015 में उन्हें निकाल दिया गया 

Read More
Read Less
Share

रॉजर फेडरर के नाम पर स्विट्ज़रलैंड में सड़क का नाम रखा गया

रॉजर फेडरर के नाम पर स्विट्ज़रलैंड में सड़क का नाम रखा गया है . यह सड़क नेशनल सेंटर ऑफ़ स्विस टेनिस की ओर जाती है जहाँ रॉजर ने ट्रेनिंग ली थी .
•    17 बार के मेजर टूर्नामेंट विजेता ने यहाँ करीब 1500 लोगों के सामने “अल्ले रॉजर फेडरर” का उद्घाटन किया . 
•    34 वर्षीय फेडरर 2016 के अगले प्रमुख टूर्नामेंट की तैयारी में हैं जी 22 मई से 6 जून तक है 
•    रॉजर फ़ेडरर स्विस टेनिस खिलाड़ी हैं, जिनकी वर्तमान में एटीपी वरीयता 2 है। उनके नाम 2 फ़रवरी 2004 से 17 अगस्त 2008 तक 237 हफ़्तों तक प्रथम वरीयता पर रहने का रिकॉर्ड है। 
•    फ़ेडरर को व्यापक रूप से इस युग के महानतम एकल खिलाड़ी के रूप में जाना जाता है।
•    फ़ेडरर ने 17 ग्रैंड स्लैम एकल खिताब (4 ऑस्ट्रेलियन ओपन, 7 विम्बलडन, 5 अमरीकी ओपन) | 
•    उन्होंने 4 टेनिस मास्टर्स कप खिताब, 16 एटीपी मास्टर्स श्रृंखलाएं, तथा एक ओलम्पिक युगल स्वर्ण पदक जीते हैं। 
•    उनके नाम कई रिकॉर्ड हैं, जिसमें लगातार 10 ग्रैंड स्लैम फ़ाईनलों (2005 विम्बलडन प्रतियोगिता से 2007 अमेरिकी ओपन प्रतियोगिता तक) तथा लगातार 19 ग्रैंड स्लैम सेमीफ़ाइनल मुकाबलों (2004 विम्बलडन से वर्तमान तक) में शामिल होना भी सम्मिलित है।

Read More
Read Less
Share

द संडे टाइम्स की 2016 की रईसों की सालाना सूची में डेविड और सिमोन रुबेन शीर्ष पर हैं

द संडे टाइम्स की 2016 की रईसों की सालाना सूची में शीर्ष दोनों स्थानों पर भारतीय काबिज हैं। मुंबई में जन्मे डेविड और सिमोन रुबेन शीर्ष पर हैं। 
•    उनकी कुल संपत्ति 13.1 अरब पौंड (करीब 1244.5 अरब रुपये) है। जबकि हिंदुजा बंधु 13 अरब पौंड (करीब 1235 अरब रुपये) की दौलत के साथ दूसरे स्थान पर हैं।
•    रुबेन बंधु का जन्म भारत में एक धनी इराकी-यहूदी परिवार में हुआ था। 1950 के दशक में वे ब्रिटेन चले आए। उन्होंने मेटल और प्रॉपर्टी के कारोबार में हाथ आजमाया। लंदन ऑक्सफोर्ड एयरपोर्ट और लंदन हेलीपोर्ट के मालिक रुबेन बंधु की दौलत पिछले एक साल में करीब 3.4 अरब पौंड बढ़ी। इस तरह वे बीते साल पांचवें स्थान से उछलकर शीर्ष पर पहुंच गए। लंदन में उनकी प्रॉपर्टियों में मिलबैंक टावर, विक्टोरिया में जॉन लुइस पार्टनरशिप हेडक्वार्टर और स्लोएन स्ट्रीट में दुकानें शामिल हैं। मेट्रो बैंक में वे प्रमुख निवेशक हैं। 
•    डेविड की उम्र 77 साल और सिमोन की 74 साल है। हिंदुजा ग्रुप के श्रीचंद और गोपीचंद हिंदुजा इस सूची में पिछले साल की तरह ही दूसरे स्थान पर बने रहे। उनकी संपत्ति में कोई खास इजाफा नहीं हुआ।
•    रिच लिस्ट में तीसरे स्थान पर वॉर्नर म्यूजिक के मालिक लेन ब्लवातनिक हैं। उनकी संपत्ति 11.59 अरब पौंड है। 
•    इस साल उनकी संपत्ति में 1.58 अरब पौंड की कमी आई है। सेलिब्रिटी में साचा बैरन कोहेन उर्फ अली जी और उनकी अभिनेत्री पत्नी इस्ला फिशर का नाम भी सूची में शुमार है। 
•    ब्रिटेन के रेसिंग ड्राइवर लुईस हैमिल्टन भी इस सूची में हैं। इन तीनों ने पहली बार इसमें स्थान बनाया है।
•    ब्रिटेन में इस साल सूची में बिलियनेयर की संख्या 120 रही है जो 2006 के बाद सबसे अधिक है। 

Read More
Read Less
Share

मनोज बाजपेयी को ' अलीगढ़ ' के लिए दादा साहेब फाल्के पुरस्कार दिया जाएगा

बॉलीवुड में अपने अभिनय के दम पर खास मुकाम बनाने वाले अभिनेता मनोज बाजपेयी को फिल्म 'अलीगढ़' में उनके दमदार अभिनय के लिए दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।
•    उन्हें हंसल मेहता की फिल्म 'अलीगढ़' के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (क्रिटिक्स च्वॉइस) की श्रेणी में यह अवॉर्ड मिलेगा।
•    पुरस्कार समारोह 1 मई 2016 को आयोजित होगा।
•    मनोज की आगामी फिल्म 'ट्रैफिक' है, जो छह मई को रिलीज हो रही है। इसमें वह ट्रैफिक कांस्टेबल की भूमिका में हैं।
•    मनोज बाजपेयी भारतीय हिन्दी फिल्म उद्योग बॉलीवुड के एक जाने माने अभिनेता हैं। 
•    मनोज को प्रयोगकर्मी अभिनेता के रुप में जाना जाता है। 
•    उन्होने अपना फिल्मी कैरियर शेखर कपूर निर्देशित अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त फिल्म बैंडिट क्वीन से शुरु किया। 
•    बॉलीवुड मे उनकी पहचान राम गोपाल वर्मा निर्देशित फिल्म सत्या से बनी। 
•    इस फिल्म ने मनोज को उस दौर के अभिनेताओं के समकक्ष ला खङा किया। 
•    इस फिल्म के लिये उनन्हे सर्वश्रेष्ठ सह-अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हुआ।

Read More
Read Less
Share

भूपेन्द्र कैनथेला एफटीआईआई के नए निदेशक नियुक्त

सरकार ने शुक्रवार को 1989 बैच के भारतीय सूचना सेवा (आईआईएस) अधिकारी भूपेन्द्र कैनथेला को तीन साल के लिए पुणे स्थित भारतीय फिल्म एवं टेलीविज़न संस्थान (एफटीआईआई) का निदेशक नियुक्त कर दिया। 
•    कैनथेला अभी डीडी न्यूज़ में डायरेक्टर (न्यूज़ रूम) के तौर पर कार्यरत हैं। इससे पहले वह पीआईबी, डीएवीपी और लोकसभा टीवी के साथ भी काम कर चुके हैं।
•    कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग :डीओपीटी: की ओर से जारी आदेश के अनुसार भारतीय सूचना सेवा के 1989 बैच के अधिकारी कैनथेला को इस पद पर तीन वर्ष के लिए नियुक्त किया गया है।
•    उल्लेखनीय है कि एफटीआईआई में टीवी अभिनेता गजेन्द्र चौहान को चेयरमैन बनाये जाने के बाद यह संस्थान समाचारों में बना हुआ है। 
•    एफटीआईआई  एक  स्वायत्तशासी संस्थान है, जो सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के तहत काम करता है।एफटीआईआई अभिनय, फिल्म निर्माण, वीडियो एडीटिंग, निर्देशन और प्रोडक्शन के लिए देश का प्रमुख संस्थान है।

Read More
Read Less

All Rights Reserved Top Rankers