toprankers
Exams
Blog
Plans
Plans
Current Affairs
Hindi
Share

एसबीआई ने सोशल मीडिया बैंकिंग प्लेटफॉर्म एस.बी.आई मिन्गल लॉन्च किया

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने 1 जुलाई 2016 को फेसबुक और ट्विटर के उपयोगकर्ताओं के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म  एस.बी.आई मिन्गल लॉन्च किया.एसबीआई की अध्यक्ष अरुणधति भट्टाचार्य ने 61वां स्टेट बैंक दिवस के अवसर पर इस प्लेटफॉर्म को  लॉन्च किया. इसे प्रत्येक वर्ष 1 जुलाई को मनाया जाता है.
•    यह एसबीआई के ग्राहकों को इन सोशल मीडिया के माध्यम से विभिन्न बैंकिंग सेवाओं का उपयोग करने की सुविधा प्रदान करेगा.•    इस मंच से सेवाएं प्राप्त करने के लिए ग्राहक को अपने सोशल अकाउंट संख्या या अपने एटीएम/ डेबिट कार्ड विवरणों का प्रयोग कर  एक बार पंजीयन प्रक्रिया के माध्यम से पंजीकरण कराना होगा.  पंजीकरण कराने के बाद इस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध विभिन्न बैंकिंग सेवाओं का वे लाभ उठा सकते हैं.

•    वर्तमान में, एसबीआई सेवाएं जैसे बैलेंस संबंधी पूछताछ, मिनी स्टेटमेंट, एसबीआई के साथ-साथ दूसरे बैंकों के बीच पैसों का हस्तांतरण और लाभार्थी प्रबंधन सेवाएं फेसबुक पर उपलब्ध हैं।

• ट्विटर पर हैशटैग का प्रयोग करने वाले ग्रहाक अपने खाते का बैलेंस और मिनी स्टेटमेंट देख सकते हैं।

Read More
Read Less
Share

इंटरनेशनल सोलर एलायंस और विश्व बैंक ने सौर ऊर्जा कार्यक्रम में सहयोग हेतु हस्ताक्षर किए

विश्व बैंक समूह ने भारत की अगुवाई वाले 121 देशों के इंटरनेशनल सोलर एलायंस (आईएसए सेल) के साथ 30 जून 2016 को सौर ऊर्जा कार्यक्रम में सहयोग औए उसे बढ़ावा देने सम्बन्धी समझौते पर हस्ताक्षर किए.
•    समझौते पर हस्ताक्षर विश्व बैंक समूह के अध्यक्ष जिम यंग किम के जून 2016 में भारत के समय किए गए.
•    समझौते का उद्देश्य वर्ष 2030 तक दस खरब डॉलर का निवेश जुटाना है.
•    नई दिल्ली में समझौते पर वित्त् मंत्री अरूण जेटली और ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल की उपस्थिति में सौर ऊर्जा कार्यक्रम सचिव और आईएसए सेल के अध्यक्ष उपेन्द्र त्रिपाठी और भारत में विश्व बैंक के निदेशक ओनो रूहल के मध्य हस्ताक्षर किये गए.
•    वित्तपोषण जुटाने के लिए एक रोडमैप का विकास
•    क्रेडिट वृद्धि सहित वित्तीय साधनों का विकास, हेजिंग लागत/ मुद्रा जोखिम को कम करने, सौर ऊर्जा विकास को समर्थन जुटाने हेतु स्थानीय स्तर पर प्रचलित मुद्राओं के विकास में मदद करना.
•    तकनीकी सहायता और ज्ञान हस्तांतरण के माध्यम से सौर ऊर्जा के लिए आईएसए की योजना का समर्थन
•    मौजूदा या नए ट्रस्ट फंड के माध्यम से रियायती वित्तपोषण को एकत्रित करने पर कार्य करना
•    बैंक ने भारत के सौर ऊर्जा कार्यक्रम में सहयोग के लिए एक अरब डॉलर से अधिक की सहायता देने की घोषणा की है.
•    भारत में विश्व बैंक समर्थित जिन योजनाओं की तैयारी चल रही है उनमें छतों पर लगायी जाने वाली सौर ऊर्जा प्रौद्योगिकी, सौर पार्कों के लिए बुनियादी ढॉचा, बाजार में नवाचारी और संकर प्रौद्योगिकियों को बढ़ावा देना
•    सौर ऊर्जा सम्पन्न राज्यों के लिए पारेषण लाइनों से जुड़ी परियोजनाएं शामिल हैं.
•    विश्व बैंक समूह के अध्यक्ष जिम यंग किम के अनुसार बैंक ने ग्रिड से जुड़े छत के ऊपर वाले सौर ऊर्जा कार्यक्रम के लिए भारत के साथ 62 करोड़ पचास लाख डॉलर का समझौता किया है. 
•    इससे संयुक्त घोषणा सौर ऊर्जा के लिए वित्त की लामबंदी तेज करने में मदद मिलेगी.
•    वर्ष 2030 तक सस्ती सौर ऊर्जा की आवश्यकता हेतु 1000 से अधिक अमेरिकी बिलियन डॉलर जुटाने में विश्व बैंक प्रमुख प्रभावी भूमिका निभा सकता है.

Read More
Read Less
Share

अमेज़न दुनिया की सबसे स्मार्ट कंपनी

एमआईटी प्रौद्योगिकी की समीक्षा संपादकों ने 50 सबसे अच्छी कंपनियों की लिस्ट बनाई है।
•    प्रत्येक वर्ष यह 50 स्मार्ट कंपनियों की लिस्ट बनाती है ।
•    इस वर्ष कुछ बड़ी कंपनियों में, अमेजन शामिल है।
•    इसके अलावा माइक्रोसॉफ्ट, बॉश, टोयोटा, और इंटेल जैसी कंपनियों की लिस्ट भी प्रतिस्पर्धा में हैं ।
•    जेफ बेजोस की ऑनलाइन के नेतृत्व वाली खुदरा कंपनी अमेज़न को एक प्रभावी व्यापार मॉडल के साथ नवीन प्रौद्योगिकी के संयोजन के लिए दुनिया के सबसे बेहतरीन कंपनियों में से एमआईटी की वार्षिक सूची में शामिल किया गया है।
•    चीनी वेब सेवा कंपनी बाइएदु और दुनिया के सबसे बड़े डीएनए अनुक्रमण कंपनी को उदबोधन में क्रमश: दूसरा और तीसरा स्थान दिया गया है।
•    अमेज़न एक ई-कॉमर्स कंपनी है जहाँ से कपड़ों से लेकर मशीन की खरीदारी की जा सकती है 
•    अमेज़न दुनियाभर में सबसे ज्यादा मशहूर कंपनी होने के साथ-साथ इसका मोबाइल एप्लीकेशन भी बहुत मशहूर हुआ है 
•    शोध पत्रिका नेचर कम्युनिकेशंस में ये शोध प्रकाशित हुआ था।

Read More
Read Less
Share

टेक महिंद्रा ने ब्रिटेन की बीआईओ एजेंसी का अधिग्रहण किया

टेक महिंद्रा ने 22 जून 2016 को ब्रिटेन की बीआईओ एजेंसी (बीआईओ) का 4.5 करोड़ पाउंड के नकदी सौदे में अधिग्रहण किया.
•    जिससे भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी को अपने डिजिटल सेवा पोर्टफोलियो के विस्तार में मदद मिलेगी. 
•    टेक महिंद्रा ने नकदी सौदे में महिंद्रा बीआईओ के 100 प्रतिशत शेयरों का अधिग्रहण करेगी.
•    टेक महिंद्रा ने यह सौदा जुलाई 2016 के पहले सप्ताह में पूरा होने उम्मीद है.
•    अप्रैल 2006 में बनी कंपनी बीआईओ की आय 2015-16 में बढ़कर 1.25 करोड़ पाउंड हो गई जो 2014-15 में 73 लाख पाउंड थी.
•    कंपनी के वित्तीय सेवा, खुदरा, संपत्ति, यात्रा और प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में सेवा ब्रांड हैं.
•    महिन्द्रा समूह 6.7 बिलियन अमरिकी डॉलर के सम्पत्ति आधार के साथ भारत के श्रेष्ठ दस औद्योगिक घरानों में से एक है तथा यह दुनिया की श्रेष्ठ तीन ट्रैक्टर निर्माता कंपनियों में से एक है। 
•    इन तमाम वर्षों में, महिन्द्रा ग्रुप ने भारतीय अर्थव्यवस्था के सभी महत्त्वपूर्ण क्षेत्रों में महत्त्वपूर्ण उपस्थिति दर्ज की है। 
•    लगातार नये स्तर बनाते हुए, आज यह देश की एक प्रमुख कार्यक्षम कंपनी के रूप में स्थापित हो चुकी है।

Read More
Read Less
Share

अवीक सरकार ने एबीपी ग्रुप के मुख्य संपादक पद से इस्तीफ़ा दिया

अवीक सरकार ने 22 जून 2016 को आनंद बाज़ार पत्रिका (एबीपी) एवं द टेलीग्राफ से मुख्य संपादक पद से इस्तीफ़ा दिया. वे समूह के चेयरमैन पद पर कार्यरत रहेंगे. उनके स्थान पर अरुप सरकार यह पद संभालेंगे.
•    अनिर्बान भट्टाचार्य को आनंद बाज़ार पत्रिका का संपादक नियुक्त किया गया जबकि आर राजगोपालन को द टेलीग्राफ का संपादक बनाया गया.
•    अवीक सरकार अब संपादक (अवकाश प्राप्त) और कंपनी के वाइस चेयरमैन के रूप में सलाहकार की भूमिका निभाएंगे.
•    वे भारतीय प्रकाशन जगत की एक प्रसिद्ध हस्ती हैं. उन्होंने हेरोल्ड इवांस से प्रशिक्षण प्राप्त किया.
•    उन्होंने अपने पिता अशोक सरकार की मृत्यु के पश्चात् 1983 में आनंद बाज़ार पत्रिका के संपादक का पद संभाला.
•    उनके प्रयासों से ही एबीपी एक स्थानीय संस्था से राष्ट्रीय ग्रुप तथा टेलीविज़न में अपनी पहचान बना सका.
•    उन्होंने पेंगुइन इंडिया की स्थापना में भी विशेष योगदान दिया, इसके उपरांत उन्होंने 2003 में स्टार न्यूज़ के अधिग्रहण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

Read More
Read Less
Share

केंद्र सरकार ने रक्षा एवं नागरिक उड्डयन में सौ प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी दी

केंद्र सरकार ने रक्षा क्षेत्र में 100 प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) को 20 जून 2016 को मंजूरी दे दी. इसके अलावा सिविल एविऐशन में भी सरकार ने 100 प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी दी. ब्रॉडकास्टिंग क्षेत्र में भी नियमों में संशोधन करते हुए निवर्तमान एफडीआई को 49 से बढ़ाकर 100 प्रतिशत कर दिया गया. 
•    रक्षा क्षेत्र (डिफेंस सेक्टर) में आर्म्स एक्ट 1959 के अनुसार छोटे हथियार और उसके पार्ट्स में ही एफडीआई लागू होगा. 
•    वहीं सिविल एविएशन सेक्टर में ब्राउनफिल्ड एयरपोर्ट प्रोजेक्ट के लिए सौ फीसदी एफडीआई को मंजूरी मिल गई.
•    केंद्र सरकार द्वारा फूड प्रोडक्ट बनाने सहित ऑनलाइन व्यापार में भी एफडीआई को मंजूरी मिल गई है. 
•    इसके साथ ही डीटीएच, मोबाइल टीवी, केबल नेटवर्क व्यापार में भी एफडीआई का रास्ता खुल गया है. 
•    फार्मा सेक्टर में ग्रीनफिल्ड और ब्राउनफिल्ड दोनों में ऑटोमेटिक रूट से पूरी तरह एफडीआई मंजूर हो गई है.
•    प्राइवेट, सिक्योरिटी एजेंसी में 49 फीसदी, वहीं एनिमल हस्बेंडरी में नियंत्रित पर 100 प्रतिशत एफडीआई के प्रस्ताव को मंजूरी मिली.
•    सिंगल ब्रांड खुदरा कारोबार में नियमों में ढील देते हुए तीन और पांच सालों के लिए टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट में पहले से 49 फीसदी एफडीआई को बढ़ाकर 100 प्रतिशत कर दिया गया है.

Read More
Read Less
Share

बोइंग और टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लिमिटेड हैदराबाद में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी संयंत्र लगाएंगे

बोइंग और टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लिमिटेड (टीएएसएल) ने 18 जून 2016 को बोइंग एएच-64 अपाचे हेलीकॉप्टर के ढांचे व अंतरिक्ष संबंधित अन्य ढाचों के उत्पादन के लिए एक संयंत्र स्थापित करने का घोषणा किया है.
•    रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने आदिबाटला शहर के बाहरी हिस्से में स्थित अंतरिक्ष विशेष आर्थिक क्षेत्र(सेज) में टाटा बोइंग एयरोस्पेस लिमिटेड (टीबीएएल) की आधारशीला रखी.
•    इस संयंत्र में अंतरिक्ष में एकीकृत प्रणाली पर भी काम होगा.
•    हैदराबाद का यह संयंत्र एएच-64 का ढांचा तैयार करनेवाला विश्व का अकेला संयंत्र होगा.
•    एच-64 विश्व का सबसे उन्नत बहुउद्देश्यीय लड़ाकू हेलीकॉप्टर है और अमेरिकी सेनाओं सहित कई अन्य देशों की सेनाएं इसका इस्तेमाल करती हैं, जिसमें भारत भी शामिल है.
•    इस संयुक्त उद्यम को रक्षा क्षेत्र का सबसे बड़ा विदेशी निवेश करार दिया है और यह केंद्र  सरकार के 'मेक इन इंडिया' अभियान को बढ़ावा देनेवाला है. बोइंग और टीएएसएल के बीच पिछले साथ अंतरिक्ष और रक्षा क्षेत्र के निर्माण को लेकर साझेदारी स्थापित करने पर सहमति बनी थी, जिसमें मानव रहित विमानों का निर्माण भी शामिल है.
•    टीएएसएल ने इसके अलावा और कई बड़ी कंपनियों से हाथ मिलाया है, जिसमें रूआग, पिलाटस, लाकहीड मार्टिन, सिकोरस्काई और एयरबस शामिल हैं.
•    बोइंग इंटरनेशनल कॉर्पोरेशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड:
•    बोइंग विश्व की सबसे बड़ी अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी कंपनी है.
•    वाणिज्यिक जेट विमानों और रक्षा, अंतरिक्ष और सुरक्षा प्रणालियों का निर्माण करती है.
•    टीएएसएल टाटा संस की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी है.
•    टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लिमिटेड का मुख्यालय हैदराबाद में है.
•    इसे बोइंग के सीएच-47 चिनूक और एएच-6आई हेलीकॉप्टर के ढांचे के निर्माण का ठेका मिला है.

Read More
Read Less
Share

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पांच सहायक कंपनियों के साथ भारतीय स्टेट बैंक के विलय को मंजूरी दी

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 15 जून 2016 को भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) एवं उसके पांच सहायक बैंकों के विलय को मंजूरी प्रदान की.
स्टेट बैंक ऑफ़ बीकानेर एंड जयपुर 
•    स्टेट बैंक ऑफ़ हैदराबाद 
•    स्टेट बैंक ऑफ़ मैसूर 
•    स्टेट बैंक ऑफ़ ऑफ़ पटियाला 
•    स्टेट बैंक ऑफ़ त्रावणकोर  इसके अतिरिक्त भारतीय महिला बैंक का भी एसबीआई में विलय किये जाने को मंजूरी प्रदान की गयी. 
•    इस विलय से 37 लाख करोड़ रुपये का आधारभूत पूँजी लाभ एवं 22500 शाखाओं तथा 60000 एटीएम मशीनों का एकीकृत विशाल बेड़ा तैयार होगा.
•    एसबीआई एवं इसके सहायक बैंकों में यह विलय करने के लिए विभिन्न कानूनों में बड़े स्तर पर बदलाव भी करने होंगे.
•    इस विलय के बाद एसबीआई विश्व के टॉप 50 बैंकों में शामिल हो जायेगा. फ़िलहाल भारत का कोई भी बैंक टॉप 50 सूची में शामिल नहीं है.
•    एसबीआई के कुल सात सहायक बैंक हैं जिनमें स्टेट बैंक ऑफ़ सौराष्ट्र एवं स्टेट बैंक ऑफ़ इंदौर का पिछले 10 वर्षों में पहले ही विलय किया जा चुका है. 
•    मूल बैंक में मार्च तिमाही के अंत में 15.09 ट्रिलियन रूपए अग्रिम राशि और 17.31 ट्रिलियन रूपए जमा राशि के रूप में संचालित किये गये.
•    केंद्र सरकार द्वारा मार्च 2016 में बैंकों के एकीकरण का प्रस्ताव रखा गया क्योंकि लम्बे समय से इस संबंध में विभिन्न शिकायतें आ रही थीं.

Read More
Read Less
Share

रिजर्व बैंक ने दबाव वाली संपत्तियों के सतत संरचना के लिए नई योजना की घोषणा की

भारतीय रिजर्व बैंक ने 13 जून 2016 को उन बड़ी परियोजनाओं के फंसे हुए कर्ज के निपटान के लिए नई योजना की घोषणा की. कर्ज के एक हिस्से को इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) की निगरानी समिति की देखरेख में इक्विटी या किसी अन्य वित्तीय उपकरण में बदला जाएगा.
•    दबाव वाली संपत्तियों के स्थिर पुनर्गठन (एस4ए) के लिए पेश की गई योजना के तहत वे परियोजनाएं आएंगी जिन्होंने परिचालन शुरू कर दिया है और उनपर बकाया कर्ज 500 करोड़ रुपए से अधिक का है.
•    एस4ए दबाव वाली बड़ी संपत्तियों के निपटान के लिए एक वैकल्पिक ढांचा है.
•    इसके तहत दबाव वाले कर्ज का सामना कर रहे एक कर्ज लेने वाले के स्थिर कर्ज स्तर के निर्धारण की बात है.
•    इसमें बकाए कर्ज का विभाजन स्थिर कर्ज और इक्विटी, अद्र्ध इक्विटी उपकरणों में किया जाना है.
•    इससे जब किसी स्थिति में ऋण लेने वाला उसे वापस करने से पलट जाए तो बैंक की स्थिति उसकी अपेक्षा थोड़ी मजबूत रहे.

Read More
Read Less
Share

टाटा पावर ने वेलस्पून रिन्यूवेब्ल्स के अधिग्रहण हेतु समझौता किया

टाटा पावर कॉरपोरेट लिमिटेड द्वारा 12 जून 2016 को अक्षय उर्जा कम्पनी वेलस्पून रिन्यूवेब्ल्स एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड के अधिग्रहण हेतु समझौते पर हस्ताक्षर किये गये.
•    टाटा पावर स्वच्छ उर्जा पोर्टफोलियो 2.3 गिगावाट तक बढ़ाना चाहता है.
•    टाटा पावर रिन्यूवेब्ल एनर्जी लिमिटेड द्वारा वेलस्पून रिन्यूवेब्ल्स एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड के अधिग्रहण हेतु समझौते पर हस्ताक्षर किये गये. 
•    यह अक्षय उर्जा से सम्बंधित अब तक का सबसे बड़ा सौदा है.
•    इस समझौते में 9249 करोड़ रूपये का सौदा तय किया गया.
•    टाटा 1140 मेगावाट के पवन उर्जा एवं सौर उर्जा प्लांटों का अधिग्रहण करेगा.
•    यह डील अनुमानतः सितम्बर 2016 में पूरी होगी.
•    टाटा समूह एक निजी व्यवसायिक समूह है जिसका मुख्यालय मुंबई में स्थित है। 
•    टाटा समुह के चेयरमेन रतन टाटा ने 28 दिसम्बर 2012 को सायरस मिस्त्री को टाटा समूह का उत्तराधिकारी नियुक्त किया। 
•    रतन टाटा पिछले 50 सालों से टाटा समूह से जुड़े हैं वे 21 सालों तक टाटा समूह के अध्यक्ष रहे। 
•    टाटा का कार्यक्षेत्र अनेक व्यवसायों व व्यवसाय से सम्बंधित सेवाओं के क्षेत्र में फैला हुआ है - जैसे इंजिनियरंग, सूचना प्रौद्योगिकी, संचार, आटोमोबाइल, रासायनिक उद्योग, ऊर्जा, साफ्टवेयर, होटल, इस्पात एवं उपभोक्ता सामग्री।

Read More
Read Less

All Rights Reserved Top Rankers