toprankers
  • Exams

  • Online Coaching

  • Test Series

  • Score Up

  • Offer Zone

  • Prep Zone

  • Current Affairs
    Hindi
    Share

    राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस -29 जून

    सहायकनिदेशक आर्थिक एवं सांख्यिकी कार्यालय में 29 जून  को 10वां राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस मनाया गया।

    •    सांख्यिकी के जन्मदाता प्रो. पीसी महालोनोबिस के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरूआत की गई।
    •    आर्थिक एवं सांख्यिकी के सहायक निदेशक श्रवण लाल रैगर ने बताया कि प्रो. पीसी महालोनोबिस के आर्थिक नियोजन एवं सांख्यिकी क्षेत्र में दिए गए योगदान के फलस्वरूप उनके जन्म दिवस पर भारत सरकार द्वारा सांख्यिकी दिवस मानने का निर्णय लिया गया है।
    •    इस वर्ष सांख्यिकी दिवस ’कृषि एवं कृषक कल्याण’ विषय पर मनाया जा रहा है।
    •    कृषि एवं कृषक कल्याण में सांख्यिकी की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि सांख्यिकी एक विज्ञान है जिसके माध्यम से समंकों का संग्रहण संकलन कर उनका वैज्ञानिक तरीके से विश्लेषण कर प्रस्तुतिकरण किया जाता है।
    •    वर्तमान में सरकार की विभिन्न जन कल्याणकारी योजना की निगरानी संबंधित विभागों में स्थापित सांख्यिकी कर्मियों द्वारा ही की जाती है।
    •    जिससे सरकार यह पता कर सकती है कि योजना का संचालन कैसा हो रहा है।
    •    मूंडवा ब्लॉक सांख्यिकी अधिकारी प्रदीपकुमार सुथार ने बताया कि सांख्यिकी का कार्य समंकों का वैज्ञानिक तरीके से विश्लेषण करना है।
    •    सांख्यिकी दिवस के इस आयोजन में जिला परिषद, मुख्य आयोजना अधिकारी, महिला एवं बाल विकास विभाग, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग सांख्यिकी विभाग के सांख्यिकी कर्मियों ने भाग लिया।

    Read More
    Read Less
    Share

    नशीली दवाओं के सेवन और अवैध तस्करी के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस मनाया गया

    विश्व भर में 26 जून 2016 को नशीली दवाओं के सेवन और अवैध तस्करी के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस मनाया गया. इस वर्ष का विषय था – पहले सुनें.
    •    इस वर्ष के विषय को नशाखोरी से बचाव हेतु जारी किया गया ताकि बच्चों, युवाओं एवं उनके परिवारों को बेहतर माहौल एवं सहयोग प्रदान किया जा सके.
    •    इस अवसर पर संयुक्त राष्ट्र ड्रग्स और अपराध कार्यालय (यूएनओडीसी) द्वारा विश्व ड्रग रिपोर्ट 2016 भी जारी की गयी.
    •    7 दिसम्बर 1987 को संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) द्वारा प्रस्ताव 42/112 द्वारा 26 जून को नशीली दवाओं के सेवन के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस मनाये जाने की घोषणा की गयी. इस दिवस का उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नशीली दवाओं से मुक्ति पाना है तथा समाज में सशक्तिकरण लाना है.
    •    इस प्रस्ताव से 1987 के नशीली दवाओं के सेवन और अवैध तस्करी पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन को भी मजबूती प्राप्त हुई.
    •    नशीली दवाओं पर संयुक्त राष्ट्र महासभा का विशेष सत्र 
    •    अप्रैल 2016 को संयुक्त राष्ट्र ने नशीली दवाओं पर संयुक्त राष्ट्र महासभा का विशेष सत्र आमंत्रित किया. यह सत्र 2009 के पॉलिसी डॉक्यूमेंट के लिए भी महत्वपूर्ण है. इसमें नशीली दवाओं के सेवन के प्रति अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सहयोग बढ़ाने हेतु कदम उठाने का आग्रह किया गया था.
    •    इस योजना के तहत सदस्य देशों को 2019 तक लक्ष्य हासिल करने के लिए कहा गया है.
    •    मांग और आपूर्ति में कमी लाने तथा प्रतिबंधित दवाओं के उपयोग में नियंत्रण लाये जाने हेतु कदम उठाये जाने चाहिए.
    •    इसमें मानव अधिकार, युवा, बच्चे, महिलाएं एवं समाज के विभिन्न वर्ग शामिल हैं. इसके अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय सहयोग, वैकल्पिक विकास तथा मानसिक दिक्कतों जैसी चुनौतियां शामिल हैं.
    •    मादक पदार्थों से संबंधित अपराधों के लिए आनुपातिक राष्ट्रीय सजा नीतियों में बदलाव तथा नशाखोरी सम्बंधित अपराधों की रोकथाम पर भी बल दिया गया है.
    •    इस अवसर पर सीमा सुरक्षा बल की पंजाब फ्रंटियर के 65 जवानों ने डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल मोहन लाल की अध्यक्षता में जालंधर मुख्यालय से साइकिल रैली निकली. इसका उद्देश्य राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति जागरुकता फैलाना, समाज ने स्वास्थ्य के प्रति एवं नशाखोरी के खिलाफ सन्देश देना था.

    Read More
    Read Less
    Share

    अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस- 23 जून

    अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस विश्वभर में 23 जून 2013 को मनाया गया. 
    •    पिछले दो दशकों में अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस ने विश्व के प्रत्येक कोने में ओलंपिक आदर्शों का प्रसार करने में मदद की है.
    •    2016 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेल का आयोजन ब्राज़ील के रियो डि जेनेरो शहर में 5 अगस्त से 21 अगस्त 2016 तक होना है.
    •    इस दिन सैकड़ों जवान और बूढ़े दौड़, प्रदर्शनियों, संगीत और शैक्षिक सेमिनार के रूप में खेल गतिविधियों में भाग लेते हैं.
    •    23 जून 1894 में पेरिस में आयोजित आधुनिक ओलंपिक खेलों की शुरूआत के उपलक्ष्य में यह दिन मनाया जाता है.
    •    इस दिवस की शुरूआत वर्ष 1948 में अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति द्वारा की गई, जब स्विट्ज़रलैंड के नगर सेंट-मोरित्ज़ में आयोजित अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के 42वें सत्र में यह निर्णय लिया गया था कि भविष्य में प्रत्येक वर्ष इस संगठन के गठन की तिथि पर (23 जून) अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस मनाया जाएगा.

    Read More
    Read Less
    Share

    ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने ब्रेक्सिट मतदान के बाद इस्तीफे की घोषणा की

    ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने 24 जून 2016 को ब्रेक्सिट मतदान के बाद इस्तीफे की घोषणा की.
    •    ब्रिटेन के यूरोपीय संघ (ईयू) में बने रहने या इसकी सदस्यता से बाहर निकलने को लेकर 23 जून 2016 को कराए गए जनमत संग्रह में करीब 51.89 फीसदी मतदान यूरोपीय संघ छोड़ने के लिए पसंद किया जबकि 48.11 प्रतिशत वोट साथ रहने के पक्ष में दिये.
    •    वे अक्टूबर से पहले अपने पद से इस्तीफा दे देंगे.
    •    डेविड कैमरन का जन्म 9 अक्टूबर 1966 को लंदन में हुआ.
    •    वे रॉबर्ट जेकिन्सन के बाद अबतक के सबसे युवा प्रधान मंत्री बने.
    •    इन्हॊने कंज़र्वेटिव अनुसंधान विभाग ज्वाइन किया और नॉर्मन लेमाउण्ट एवं माईकल हावर्ड के विशेष सलाहकार बने.
    •    डेविड कैमरन पिछले कुछ वर्षों में कई बार जीत चुके हैं अलग-अलग मुद्दों पर. चाहे वो 2010 में गठबंधन बनाने की बात हो या फिर आम चुनाव या फिर पिछले दस साल में हुए दो जनमत संग्रह लेकिन इस बार क़िस्मत ने उनका साथ नहीं दिया.

    Read More
    Read Less
    Share

    विश्व हाइड्रोग्राफी डे - 21 जून

    विश्व भर में 21 जून 2016 को विश्व हाइड्रोग्राफी डे मनाया गया. वर्ष 2016 का विषय हाइड्रोग्राफी – अच्छी तरह से प्रबंधित समुद्र और जलमार्ग की कुंजी 
    •    विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस, 21 जून, रेडियोग्राफर का काम और जल के महत्व को प्रचारित करने के लिए एक वार्षिक उत्सव के रूप में अंतरराष्ट्रीय जल सर्वेक्षण संगठन द्वारा अपनाया गया था.
    •    अंतरराष्ट्रीय जल सर्वेक्षण ब्यूरो 1921 में स्थापित किया गया था.
    •    वर्ष 2005 में अंतरराष्ट्रीय जल सर्वेक्षण संगठन द्वारा 21 जून को विश्व हाइड्रोग्राफी दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी.
    •    हाइड्रोग्राफी पृथ्वी पर पानी और जलभंडार का नापजोख तथा विवरण देता है.
    •    यह पृथ्वी पर मौजूद नदी, झील तालाब और समुद्र के आकार, गहिराई, पानी के मात्रा तथा पानी के लेवल का नियंत्रण रखता है.
    •    इसका प्रमुख उद्देश्य नेविगेशन (जहाज और नाव के संचालन) में सुबिधा के लिए डेटा उपलब्ध करना

    Read More
    Read Less
    Share

    अंतरराष्ट्रीय नाविक दिवस 25 जून को विश्व भर में मनाया गया

    विश्व भर में 25 जून 2016 को अंतरराष्ट्रीय नाविक दिवस मनाया गया. वर्ष 2016 का विषय: एट सी फॉर ऑल
    •    यह इसके वैश्विक अभियान का चौथा संस्करण थाः नाविक का दिन. नाविक के दिन का पहला संस्करण आईएमओ ने वर्ष 2011 में मनाया था.
    •    25 जून को अंतरराष्ट्रीय नाविक दिवस मनाने का फैसला अंतरराष्ट्रीय समुद्री संगठन (आईएमओ) ने वर्ष 2010 में लिया था. 
    •    नाविक दिवस को संयुक्त राष्ट्र ने पालन सूची (ऑब्जर्वेंस लिस्ट) में भी शामिल कर लिया गया है.
    •    इस फैसले के मोटो से यह पता चलता है कि हमारे दैनिक जीवन में उपयोग में आने वाले लगभग सभी चीजें प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से समुद्री परिवहन द्वारा प्रभावित हैं.
    •    आईएमओ के अनुमान के मुताबिक दुनिया के माल–व्यापार का लगभग 90 फीसदी जहाजों द्वारा ही ले जाया जाता है.
    •    नाविक न सिर्फ जहाजों के संचालन के लिए बल्कि मालवाहक जहाज के सुरक्षित और सुचारू वितरण के लिए भी जिम्मेदार होते हैं.

    Read More
    Read Less
    Share

    अंतरराष्ट्रीय विधवा दिवस-2016 मनाया गया

      विश्व भर में 23 जून 2016 को अंतरराष्ट्रीय विधवा दिवस मनाया गया. यह दिवस विधवा महिलाओं की समस्याओं की प्रति जागरुकता फ़ैलाने के लिए मनाया जाता है.
    •    यह दिवस विधवाओं की स्थिति पर प्रकाश डालता है जिससे पता चलता है कि उन्हें समाज में किस प्रकार की उपेक्षा एवं दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.
    •    ज्यादातर नागरिक समाज संगठन भी समाज के इस उपेक्षित वर्ग की अनदेखी करते हैं.
    •    आमतौर पर विधवाओं को समाज से बहिष्कार जैसी स्थिति से गुजरना पड़ता है. विधवाओं एवं उनके बच्चों के साथ किया जाने वाला दुर्व्यवहार मानव अधिकारों की श्रेणी में गंभीर उल्लंघन है.
    •    विश्व में लाखों विधवाएं किसी विशेष कानून के आभाव के कारण गरीबी, बहिष्कार, हिंसा, बेघर एवं स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से जूझ रही हैं.
    •    विश्व में मौजूद सभी विधवाओं को समाज की मुख्यधारा में लाने हेतु संयुक्त राष्ट्र आम सभा (यूएनजीए) ने 23 जून 2011 को पहला अंतरराष्ट्रीय विधवा दिवस मनाने की घोषणा की.
    •    वर्ष 2011 से अंतरराष्ट्रीय विधवा दिवस विश्व के इस शोषित वर्ग के उत्थान के लिए मनाया जा रहा है.

    Read More
    Read Less
    Share

    संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस 23 जून को मनाया गया

    संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस 23 जून 2016 को मनाया गया. वर्ष 2016 का विषय लीविंग नो वन बिहाइंड: इनोवेटिव इंस्टिट्यूटनल अप्प्रोचेस एंड पब्लिक सर्विस डिलिवरी. यह दिवस सभी सरकारी कर्मचारियों के अमूल्य योगदान को चिह्नित करने और एक बेहतर दुनिया बनाने के प्रशासकीय प्रयास के लिए हर वर्ष मनाया जाता है.
    •    वर्ष 2002 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 23 जून को संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी.
    •    संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस का उद्देश्य समुदाय के लोक सेवा के मूल्य और पुण्य का समारोह मनाना है. यह विकास प्रक्रिया में सार्वजनिक सेवा के योगदान और सरकारी कर्मचारियों के कार्य को दर्शाता है.
    •    यह दिवस युवाओं को लोक क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करता है. संयुक्त राष्ट्र इस दिन संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा अवार्ड प्रदान करता है.
    •    यह पुरस्कार लोक सेवा में उत्कृष्ट पहचान के लिए दिए जाने वाला अंतरराष्ट्रीय स्तर का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार हैं.

    Read More
    Read Less
    Share

    21 जून 2016 को विश्व भर में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस-2016 मनाया गया

    विश्व भर में 21 जून 2016 को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया. इस वर्ष का विषय था - युवाओं को जोड़ें.
    •    इस दिवस पर वर्ष 2015 में 193 संयुक्त राष्ट्र सदस्य देशों द्वारा अपनाये गये सतत विकास लक्ष्यों के लिए स्वास्थ्य संबंधी जागरुकता पर प्रकाश डाला गया.
    •    भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में चंडीगढ़ स्थित कैपिटल कॉम्प्लेक्स में हज़ारों लोगों के साथ योग करके यह दिवस मनाया गया.
    •    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाये जाने की सिफारिश की गयी थी.
    •    इसके उपरांत 11 दिसम्बर 2014 संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा इस प्रस्ताव को पारित करके प्रत्येक वर्ष इस दिन यह दिवस मनाये जाने की घोषणा की गयी.
    •    यह प्रस्ताव महासभा द्वारा विश्व स्वास्थ्य और विदेश नीति के तहत पारित किया गया ताकि विश्व भर में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य वातावरण प्राप्त हो सके.
    •    अमेरिका, कनाडा, चीन एवं मिस्र सहित 177 देशों ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया.
    •    योग एक आध्यात्मिक प्रकिया है जिसमें शरीर, मन और आत्मा को एक साथ लाने (योग) का कार्य होता है. 
    •    ‘योग’ शब्द का अर्थ है - समाधि अर्थात् चित्त वृत्तियों का निरोध.
    •    इसके बारे में पतंजलि के योग सूत्र में जानकारी मिलती है.

    Read More
    Read Less
    Share

    विश्व शरणार्थी दिवस 20 जून को विश्व भर में मनाया गया

    विश्व शरणार्थी दिवस 20 जून 2016 को दुनिया भर में मनाया गया. यह दिवस शरणार्थियों की दुर्दशा की ओर ध्यान आकर्षित करने के लिए प्रतिवर्ष मनाया जाता है, यह दिवस उनके साहस और शरणार्थी समस्याओं को हल करने की प्रतिबद्धता को दर्शाने के लिए मनाया जाता है.
    •    यह विभिन्न देशो से जुड़े हुए, उनकी मेजबानी करते हुए शरणार्थीयों के योगदान को भी मान्यता देता है.
    •    अनेक देश अलग-अलग तिथियों में अपने यहां शरणार्थी दिवस मनाते हैं. 
    •    इनमें सबसे महत्वपूर्ण अफ्रीका शरणार्थी दिवस है, जो 20 जून को प्रति वर्ष मनाया जाता रहा है. 
    •    दिसंबर 2000 में संयुक्त राष्ट्र ने अफ्रीका शरणार्थी दिवस यानी 20 जून को प्रतिवर्ष विश्व शरणार्थी दिवस मनाने का निर्णय लिया. 
    •    वर्ष 2001 से प्रति वर्ष संयुक्त राष्ट्र के द्वारा 20 जून को विश्व शरणार्थी दिवस मनाया जा रहा है. 
    •    इस दिन को मनाने का मुख्य कारण लोगों में जागरुकता फैलानी है कि कोई भी इंसान अमान्य नहीं होता फिर चाहे वह किसी भी देश का हो. 
    •    एकता और समंवय की भावना रखते हुए हमें सभी को मान्यता देनी चाहिए. 
    •    म्यांमार, लीबिया, सीरिया, अफगानिस्तान, मलेशिया, यूनान और अधिकांश अफ़्रीकी देशों से हर साल लाखों नागरिक दूसरे देशों में शरणार्थी के रूप में शरण लेते हैं. 
    •    संयुक्त राष्ट्र की संस्था युएनएचसीआर रिफ्यूजी लोगों की सहायता करती है.

    Read More
    Read Less

    All Rights Reserved Top Rankers