toprankers
Exams
Blog
Plans
Plans
Current Affairs
Hindi
Share

भारत के राष्ट्रपति ने वर्ष 2008, 2009 और 2010 के लिए डॉ. बी सी रॉय राष्ट्रीय पुरस्कार वितरित किए

भारत के राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 1 जुलाई 2016 को चिकित्सक दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में वर्ष 2008, 2009 एवं 2010 के लिए डॉ. बी सी रॉय राष्ट्रीय पुरस्कार वितरित किए. यह पुरस्कार चिकित्सकीय क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए दिया जाता है.
पुरस्कार प्राप्तकर्ताओं की सूची : वर्ष 2008
•    डॉ मेमन चांडी
•    प्रोफेसर राजेश्वर दयाल
•    डॉ रोहित वी भट्ट
•    डॉ नीलम मोहन
•    प्रो. मोहन कामेश्वरन
•    डॉ हर्ष जौहरी
•    डॉ गोपाल बदलानी
•    डॉ यश गुलाटी
वर्ष 2009
•    डॉ के एच संचेटी
•    डॉ अतुल कुमार
•    डॉ रेनु सक्सेना
•    डॉ कनन ए येलिकर
•    डॉ ए के कृपलानी
•    डॉ जी वी राव
•    डॉ एच एस भानुशाली
•    डॉ मोती लाल सिंह
•    डॉ सी एन पुरुंद्रे
•    डॉ सी वी हरिनारायण
वर्ष 2010
•    डॉ निखिल सी मुंशी
•    डॉ तेजिंदर सिंह
•    प्रो ओ पी कालरा
•    डॉ अमरिंदर जीत कंवर
•    डॉ सुभाष गुप्ता
•    डॉ राजेन्द्र प्रसाद
•    डॉ ग्लोरी एलेग्जेंडर

डॉ. बिधान चंद्र राय बहुमुखी प्रतिभा के धनी एक वरिष्ठ चिकित्सक, विद्वान शिक्षाविद, निर्भीक स्वतंत्रता सेनानी, कुशल राजनीतिज्ञ और प्रसिद्ध समाज सेवक के साथ साथ आधुनिक भारत के राष्ट्र निर्माता के रूप में भी बड़ी श्रद्धा व सम्मान के साथ स्मरण किया जाता है। विशेषकर बंगाल के प्रथम मुख्यमंत्री के रूप में उनके द्वारा किए गये उल्लेखनीय कार्यों के संदर्भ में उन्हें 'बंगाल का मसीहा' भी कहा जाता है।

Read More
Read Less
Share

भारत के सीएजी चीन की नांजिंग यूनीवर्सिटी में मानद प्रोफेसर की उपाधि से सम्मानित

हिन्दुस्तान के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक शशि कांत शर्मा को चीन में नांजिंग ऑडिट विश्वविद्यालय में मानद प्रोफेसर की उपाधि से सम्मानित किया गया।
•    एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक शशि कांत शर्मा को चीन की नांजिंग ऑडिट विश्वविद्यालय का मानद प्रोफेसर बनाया गया है। 
•    यह इकलौता विश्वविद्यालय है जिसे इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनल ऑडिटर्स से मान्यता प्राप्त है।
•    नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (CAG) शशि कांत शर्मा ने इस अवसर पर अपने संबोधन में राजकाज संचालन के बदलते ढांचे के मद्देनजर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लेखापरीक्षक समुदाय की क्षमता निर्माण पर जोर दिया।
•    उन्होंने इस अवसर पर 5 सर्वोच्च लेखापरीक्षक संस्थानों (एसएआई) के बीच आपसी सहयोग पर जोर दिया। खासतौर से डाटा विश्लेषण, ढांचागत परियोजनाओं के आडिट और पर्यावरण से जुड़े मुद्दों पर सहयोग बढ़ाने पर जोर दिया।
•    सीएजी शशि कांत शर्मा बीजिंग में ब्रिक्स देशों के सर्वोच्च ऑडिट संस्थानों की पहली बैठक में भाग लेने पहुंचे हैं। 
•    उन्होंने कहा कि ब्रिक्स लेखापरीक्षक संस्थानों (एसएआई) के नेताओं ने लेखा परीक्षकों की गुणवत्ता सक्रियता बढ़ाने पर सहमति जताई है ताकि ये सर्वोच्च ऑडिट संस्थान विकसित आर्थिक एवं सामाजिक विकास में बेहतर भूमिका निभा सकें।
•    इससे पहले नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक के नेतृत्व में ब्रिक्स देशों के महालेखा परीक्षकों के एक शिष्टमंडल ने चीन के उप प्रधानमंत्री जांग गोओली के साथ बैठक की और सम्मेलन की प्रगति पर चर्चा की।
•    बैठक में नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक ने अपने कार्यक्रम में सेवाओं आंकड़ों को जुटाने, व्यवस्थित करने और रिपोर्टिग में सेवाओं को स्वचलित बनाने की दिशा में उठाए बड़े कदम के बारे में बताया।

Read More
Read Less
Share

ब्रिटेन में दो भारतीय ने जीता महारानी यंग लीडर्स अवार्ड

ब्रिटेन में दो भारतीयों ने महारानी यंग लीडर्स अवार्ड जीता है। उन्हें यह पुरस्कार दूसरों की जिंदगी में बदलाव और अपने समुदाय में स्थायी परिवर्तन लाने के लिए दिया गया है।
•    वर्ष 2016 के लिए महारानी यंग लीडर अवार्ड जीतने वाले 60 लोगों में 21 वर्षीय कार्तिक सावहनेय और 28 वर्षीया नेहा स्वैन भारतीय हैं। 
•    अगले वर्ष जून में बकिंघम पैलेस में ब्रिटेन की महारानी पुरस्कार प्रदान करेंगी।
•    जन्म से ही दृष्टिहीन कार्तिक अपने असाधारण काम के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने शिक्षा तक सभी की पहुंच को उजागर करने के लिए असाधारण काम किया है।
•    दृष्टिहीन छात्रों को पेश आने वाली मुश्किलों से जूझ चुके कार्तिक ने 11वीं कक्षा में नामांकन के लिए संघर्ष किया था। 
•    11वीं के बाद इंजीनियरिंग में फिर चुनौती पेश आई। इसके बाद उन्होंने एसटीईएमएक्सेस प्रोजेक्ट की स्थापना की थी।
•    नेहा एनजीओ चलाती हैं। 
•    उनकी टीम भारत में स्कूलों में मुफ्त वर्कशाप मुहैया कराती है। हैदराबाद में 2000 युवकों के साथ काम किया है।

Read More
Read Less
Share

अलेक्सिस सांचेज़ ने कोपा अमेरिका में गोल्डन बॉल जीता

एलेक्सिस सांचेज कोपा अमेरिका टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के रूप में नामित किये गये .
•    चिली ने साउथ अमेरिका के सबसे बड़े फुटबॉल टूर्नामेंट कोपा अमेरिका कप के फाइनल में अर्जेंटीना को पेनल्टी शूटआउट में 4-2 से हरा दिया है। 
•    चिली ने लगातार दूसरी बार इस खिताब पर कब्जा जमाया है। 
• 

Read More
Read Less
Share

2016 बीईटी अवार्ड्स’ में शीर्ष विजेता बनकर उभरीं बियोंसे

‘2016 बीईटी अवार्ड्स’ में सर्वश्रेष्ठ गायिका आर एंड बी…पॉप कलकार सहित चार पुरस्कार अपनी झोली में बटोरकर गायिका बियोंसे नोल्स सबसे बड़ी विजेता बनकर उभरी हैं। 
•    बियोंसे (34) ने ‘वीडियो ऑफ द ईयर, कोका-कोला व्यूअर्स च्वाइस अवार्ड’ और ‘सेंट्रिक अवार्ड’ का खिताब भी अपने नाम किया। 
•    ये सभी पुरस्कार उनके वीडियो ‘फॉर्मेशन’ के लिए मिले। ड्रेक और ब्रायसन टिलर ने क्रमश: दो-दो पुरस्कार झटके।
•    ‘एस शोबिज’ की खबर के अनुसार, सर्वश्रेष्ठ गायक हिप-हॉप कलाकार के खिताब के अलावा ड्रेक ने सर्वश्रेष्ठ समूह का पुरस्कार भी अपने नाम किया। 
•    गायक ने ये दोनों पुरस्कार फ्यूचर और रिहाना के साथ अपने हालिया हिट एलबम ‘वर्क’ के साथ किए काम के लिए जीता। 
•    बहरहाल, टिलर ने सर्वश्रेष्ठ आर एंड बी…पॉप कलाकार और सर्वश्रेष्ठ नवोदित कलाकार का पुरस्कार जीता। 
•    अन्य विजेताओं में निकी मिनाज (सर्वश्रेष्ठ गायिका हिप-हॉप कलाकार), किर्क फ्रैंकलिन, स्केप्टा और विजकिड का नाम शामिल है।

Read More
Read Less
Share

प्रोफेसर संजय मित्तल वर्ष 2015 के जी डी बिड़ला पुरस्कार से सम्मानित

आईआईटी-कानपुर से संबंधित प्रोफेसर संजय मित्तल को उनके वैज्ञानिक अनुसंधान के लिए वर्ष 2015 के जी डी बिड़ला पुरस्कार (घनश्यामदास बिड़ला पुरस्कार) से जून 2016 में सम्मानित किया गया.
•    आईआईटी-कानपुर के ऐरोस्पेस इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर संजय मित्तल को यह सम्मान उनके यंत्र विज्ञान क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के लिए दिया गया.
•    प्रोफेसर संजय मित्तल आईआईटी-कानपुर में एयरोस्पेस इंजीनियरिंग विभाग में कम्प्यूटेशनल फ्लूड डायनामिक्स के प्रोफेसर हैं.
•    उन्होंने वर्ष 1988 में आईआईटी कानपुर से अपना बीटेक पूरा किया.
•    इसके बाद, उन्होंने मिनेसोटा विश्वविद्यालय से एमएस में उपाधि प्राप्त की
•     एक सहायक प्रोफेसर के रूप में वर्ष 1994 में वे आईआईटी कानपुर में शामिल हो गए.
•    वे विज्ञान और प्रौद्योगिकी के लिए शांति स्वरूप भटनागर पुरस्कार से सम्मानित हो चुके हैं.
•    वैज्ञानिक अनुसंधान हेतु वर्ष 1991 में के के बिड़ला फाउंडेशन द्वारा ‘जी डी बिड़ला पुरस्कार’ स्थापित किया गया था.
•    इसे भारतीय घनश्याम दास बिड़ला के सम्मान में स्थापित किया गया.
•    यह पुरस्कार पिछले 5 वर्षों के दौरान उत्कृष्ट वैज्ञानिक अनुसंधान के लिए 50 साल की उम्र से नीचे के भारतीय वैज्ञानिक को दिया जाता है.
•    यह पुरस्कार हर वर्ष दिया जाता है और इसमें चिकित्सा विज्ञान सहित विज्ञान की सभी शाखाओं को शामिल किया जाता है.
•    वर्ष 2014 का जी डी बिड़ला पुरस्कार संजीव गलांडे को दिया गया था.

Read More
Read Less
Share

कन्नड़ फिल्म 'तिथि' ने जून 2016 को 19वें शंघाई अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के एशिया न्यू टैलेंट अवॉर्ड्स में सर्वश्रेष्ठ फिल्म और सर्वश्रेष्ठ पटकथा लेखक का पुरस्कार अपने नाम किया है.
•    'तिथि' इस महोत्सव के लिए चुनी गई एकमात्र भारतीय फिल्म थी, जिसका प्रदर्शन महोत्सव के दौरान किया गया.
•    भारत से बाहर पहली बार शंघाई में फिल्म का प्रदर्शन किया गया और मैं चीन एवं एशिया के विभिन्न हिस्सों के लोगों की प्रतिक्रिया जानने को लेकर उत्सुक था. निर्णायक मंडल के सदस्य चीन, जापान और कोरिया के थे और सबने फिल्म को पसंद किया.
•    सर्वश्रेष्ठ फिल्म की श्रेणी में:
•    वन नाइट ओनली (चीन)
•    हनाज मिसो सूप (जापान)
•    लैंड ऑफ द लिटिल पीपुल (इस्रायल)
•    डिटेक्टिव चाइनाटाउन (चीन) को भी नामांकन मिला था.
•    कर्नाटक के एक छोटे से गांव पर आधारित यह फिल्म है.
•    इसकी पटकथा रेड्डी के साथ इरे गौड़ा ने लिखी थी.

Read More
Read Less
Share

मारग्रेट एटवुड पेन पिंटर पुरस्कार से सम्मानित

कनाडा की कवियत्री, साहित्यकार एवं पर्यावरणविद मार्गरेट एटवुड को 16 जून 2016 को वर्ष 2016 के पेन पिंटर पुरस्कार हेतु चयनित किया गया.एटवुड ब्रिटिश लाइब्रेरी में 13 अक्टूबर 2016 को आयोजित किये जाने वाले एक कार्यक्रम में यह सम्मान प्राप्त करेंगी.एटवुड का चयन विकी फीदरस्टोन, ज़िया हैदर रहमान, पीटर स्टोटहार्ड, एंटोनिया फ्रेजर एवं इंग्लिश पेन प्राइज के अध्यक्ष मॉरीन फ्रीली द्वारा किया गया.
•    मार्गरेट एटवुड एक कनाडाई कवि, उपन्यासकार, साहित्यिक आलोचक, निबंधकार और पर्यावरण कार्यकर्ता है.

•    वे लॉन्गपेन की संस्थापक हैं तथा दस्तावेजों के लेखन हेतु रोबोटिक तकनीक से भी जुड़ी हैं.

•    वे आर्थर सी क्लार्क अवार्ड एवं प्रिंस ऑफ़ एस्टुरियस अवार्ड फॉर लिटरेचर से भी सम्मानित की जा चुकी हैं.

•    उन्हें पांच बार बुकर प्राइज के लिए नामांकित किया जा चुका है. वर्ष 2000 में उन्हें द ब्लाइंड असेसिन के लिए बुकर प्राइज भी मिला.

•    वर्ष 2001 में उन्हें कनाडा के वॉक ऑफ़ फेम में शामिल किया गया.

•    उनके कुछ प्रसिद्ध उपन्यासों में द हैंडमेड टेल, द रॉबर ब्राइड, द इयर ऑफ़ द फ्लड शामिल हैं.
पेन पिंटर पुरस्कार की स्थापना इंग्लिश पेन द्वारा वर्ष 2009 में नोबेल पुरस्कार विजेता नाटककार हेरॉल्ड पिंटर के सम्मान में की गयी थी. इसका उद्देश्य अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता एवं उत्कृष्ट लेखकों को प्रोत्साहन देना है. 

Read More
Read Less
Share

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून रूस के “ऑर्डर ऑफ फ्रेंडशिप” सम्मान से सम्मानित

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 8 जून 2016 को संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की-मून को “ऑर्डर ऑफ फ्रेंडशिप” सम्मान से सम्मानित किया.
•    बान को यह सम्मान शांति, दोस्ती, सहयोग और आपसी समझ को मजबूत बनाने में विशेष गुण के लिए सम्मानित किया गया.
•    बान की-मून संयुक्त राष्ट्र के आठवें और वर्तमान महासचिव हैं.
•    महासचिव बनने से पहले वे दक्षिण कोरिया के विदेश मामलों के मंत्रालय में एक कैरियर राजनयिक थे.
•    बान ने लोक प्रशासन में मास्टर की उपाधी हार्वर्ड विश्वविद्यालय में जॉन एफ कैनेडी सरकारी स्कूल से प्राप्त की.
•    वे जनवरी 2004 से नवम्बर 2006 तक कोरिया गणराज्य के विदेश मंत्री रहे.
•    वे 13 अक्टूबर 2006 को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा आठवें महासचिव चुने गए.
•    बान की मून संयुक्त राष्ट्र के आठवें और वर्तमान महासचिव हैं। महासचिव बनने से पहले वे दक्षिण कोरिया के विदेश मामलों के मंत्रालय में एक कैरियर राजनयिक थे। 
•    वे जनवरी 2004 से नवम्बर 2006 तक कोरिया गणराज्य के विदेश मंत्री रहे। 
•    13 अक्टूबर 2006 को वे संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा आठवें महासचिव चुने गए।

Read More
Read Less
Share

भारतीय लेखक अखिल शर्मा अंतरराष्ट्रीय डबलिन साहित्य सम्मान से पुरस्कृत

भारतीय मूल के अमेरिकी लेखक अखिल शर्मा को 9 जून 2016 को 'अंतरराष्ट्रीय डबलिन साहित्य पुरस्कार' से सम्मानित किया गया. 
•    यह आयरलैंड का सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान है. 
•    इसे उनके आत्मकथात्मक उपन्यास 'फैमिली लाइफ' के लिए दिया गया. उन्हें पुरस्कार स्वरूप एक लाख यूरो (करीब 75 लाख रुपये) की राशि मिली.
•    'फैमिली लाइफ' को वर्ष 2015 का फोलियो पुरस्कार भी मिल चुका है. यह पुरस्कार ब्रिटेन में अंग्रेजी भाषा में प्रकाशित फिक्शन श्रेणी की सर्वश्रेष्ठ रचनाओं को दिया जाता है. 
•    उस समय पुरस्कार स्वरूप अखिल को ट्रॉफी और 40 हजार पौंड मिले थे. दिल्ली में जन्में अखिल शर्मा अब न्यूयॉर्क में रहते हैं.
•    'फैमिली लाइफ' एक ऐसे व्यक्ति पर आधारित कहानी है जो बेहतर जिंदगी की तलाश में परिवार सहित दिल्ली से न्यूयॉर्क जाकर बस जाता है. 
•    वहां एक दुर्घटना में बड़े भाई का ब्रेन डेड हो जाता है. इस घटना के पश्चात् उन परिवार का परिदृश्य ही बदल जाता है. अखिल ने यह उपन्यास 13 वर्षों में पूरा किया.

Read More
Read Less

All Rights Reserved Top Rankers