Current Affairs
Hindi
Share

कनाडा ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में चैंपियन बने साई प्रणीत

भारतीय शटलर चौथी वरीय बी साई प्रणीत ने पुरुष एकल और रियो में देश का प्रतिनिधित्व करने जा रहे मनु अत्री तथा बी सुमित रेड्डी की शीर्ष वरीय जोड़ी पुरुष युगल में अपने-अपने फाइनल जीतकर यहां 55 हजार डॉलर की ईनामी राशि वाले कनाडा ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में चैंपियन बन गए हैं।
•    विश्व के 37वें नंबर के खिलाड़ी प्रणीत ने विजयी अभियान को आगे बढ़ाते हुए पुरुष एकल के फाइनल में तीसरी वरीय कोरिया के ली ह्युन की चुनौती को एकतरफा अंदाज में 21-12, 21-10 से केवल 28 मिनट में निपटाते हुए खिताब अपने नाम किया। 
•    पुरुष युगल में मनु और सुमित की शीर्ष वरीय जोड़ी ने मेजबान कनाडा के एड्रियन लू और टोबी एनजी की गैर वरीय जोड़ी को 25 मिनट में 21-8, 21-14 से धो दिया और युगल का खिताब अपने नाम किया। 
•    ब्राजील के रियो डी जेनेरो में अगस्त में होने वाले ओलंपिक खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व करने जा रहे मनु और सुमित ने इस खिताब के साथ अपनी ओलंपिक तैयारियों को पुख्ता करने के साथ आत्मविश्वास भी हासिल किया है।
•    कोरियाई खिलाड़ी ने रविवार को सेमीफाइनल मुकाबले में शीर्ष वरीय भारतीय खिलाड़ी अजय जयराम को एकतरफा अंदाज में 28 मिनट में 21-9, 21-8 से हराकर फाइनल में जगह बनाई थी लेकिन वह जबरदस्त फॉर्म में चल रहे अन्य भारतीय खिलाड़ी प्रणीत की चुनौती का सामना नहीं कर सके। 
•    विश्व में 44वीं रैंकिंग के कोरियाई खिलाड़ी से प्रणीत ने अपनी पिछली हार का बदला भी चुकता कर लिया। 
•    दोनों खिलाड़ियों के बीच पिछली भिड़ंत गत वर्ष मलेशिया मास्टर्स में हुई थी जहां ह्युन ने जीत दर्ज की थी। 
•    पिछले काफी समय से चोटों से प्रभावित रहे 23 वर्षीय प्रणीत ने इस वर्ष ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप में दो बार के ओलंपिक रजत पदक विजेता और पूर्व नंबर वन खिलाड़ी मलेशिया के ली चोंग वेई को पहले ही राउंड में हराकर इसी तरह से सुर्खियां बटोरी थीं। 
•    आंध्र प्रदेश के रहने वाले प्रणीत को जहां सेमीफाइनल में फ्रांसीसी खिलाड़ी और सातवीं वरीय ब्राइस लेवेरडेज के खिलाफ तीन गेमों तक संघर्ष करना पड़ा था वहीं खिताबी मुकाबले में वह ज्यादा सहज और आत्मविश्वास में नजर आये और आधे घंटे से कम समय में मैच निपटा दिया।
•    रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय पुरुष युगल जोड़ी मनु और सुमित टूर्नामेंट में भाग्यशाली रही और उन्होंने सेमीफाइनल में वॉकओवर से प्रवेश किया। 
•    सेमीफाइनल में उन्होंने इंडोनेशिया के आंद्रेई आदिस्तिया और कनाडा के डोंग एडम की जोड़ी को लगातार गेमों में हराया था और फाइनल में भी उनका मुकाबला एकतरफा ही रहा।

All Rights Reserved Top Rankers