Current Affairs
Hindi
Share

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने जुलाई 2016 में विवादास्पद आतंकवाद विरोधी कानून में संशोधन को अपनी मंजूरी दे दी.

•    यह आतंकवाद विरोधी संशोधन को अमेरिकी के खुफिया एजेंसी द्वारा बिग ब्रदर का दर्ज़ा दिया गया है
•    आलोचकों का कहना है कि इसके बाद इंटरनेट और दूरसंचार कंपनियों को अरबों खर्च करने पड़  सकते हैं
•    इस नये संशोधन के बाद कानून प्रवर्तन एजेंसियों को किसी भी न्यायिक निरीक्षण के बिना किसी भी उपयोगकर्ता के संदेशों को पढने, देखने का अधिकार प्रदान किया जाएगा।
•    इसके तहत सुरक्षा एजेंसिओं को किसी भी उपयोगकर्ताओं के 6 महीने तक के कॉल, संदेश , तस्वीरें और वीडियो को स्टोर करने का अधिकार मिल जाएगा इसके अलावा वो मेटाडाटा को 3 साल तक स्टोर करने की अनुमति देता है।
•    कई अपराधों में सजा की उम्र को 14 वर्ष से कम कर दिया गया है 
•    आतंकवाद के लिए उकसाने जैसे अपराधों में भी जेल की सजा हो सकती है ।

All Rights Reserved Top Rankers