Current Affairs
Hindi
Share

नासा का पावर बूस्टर रॉकेट मंगल यात्रा को तैयार

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा दुनिया का सर्वाधिक शक्तिशाली रॉकेट मंगल पर भेजने की तैयारी में हैं, और उसने इस दिशा में उटाह के प्रोमोनटोरी में स्थित ऑर्बिटल एटीके के परीक्षण केंद्र में अंतरिक्ष प्रक्षेपण प्रणाली (एसएलएस) के बूस्टर का सफल परीक्षण किया.

•    यह नासा के ओरियन अंतरिक्ष यान के जरिए 2018 में प्रस्तावित पहले मानव विहीन परीक्षण उड़ान के लिए एसएलएस के तैयार होने से पूर्व बूस्टर का यह अंतिम व्यापक परीक्षण था. 
•    वर्ष 2018 का प्रस्तावित परीक्षण नासा के मंगल मिशन में एक मील का पत्थर साबित होने वाला है.
•    वाशिंगटन स्थित नासा मुख्यालय के ह्यूमन एक्सप्लोरेशन एंड ऑपरेशन्स मिशन डॉरेक्टोरेट के सह-प्रशासक विलियम गर्सटेनमेयर ने कहा, "बूस्टर प्रणाली की इस अंतिम योग्यता परीक्षण से अंतरिक्ष प्रक्षेपण प्रणाली के विकास की वास्तविक प्रगति का पता चलता है."
•    इस परीक्षण ने और लगभग 36 लाख पाउंड के खर्च मानव अन्वेषण की दिशा में प्रगति में मदद करता है और गहन अंतरिक्ष में विज्ञान व प्रौद्योगिकी मिशनों के लिए नए फलक खोलता है.
•    दो मिनट के इस पूर्णकालिक परीक्षण ने नासा को 82 अहर्ता उद्देश्यों पर महत्वपूर्ण डेटा उपलब्ध कराया है, जो उड़ान के लिए बूस्टर के प्रमाणीकरण में मदद करेगा.
•    इंजीनियर अब बूस्टर पर 530 से अधिक इंस्ट्रमेंटेशन चैनलों द्वारा एकत्र किए गए परीक्षण के आंकड़ों का मूल्यांकन करेंगे.

All Rights Reserved Top Rankers