Current Affairs
Hindi
Share

दो भारतीय अमेरिकी छात्रों ने जीती यु.एस स्पेल्लिंग बी प्रतियोगिता

दुनिया की प्रतिष्ठित स्पेलिंग बी प्रतियोगिता में इस बार दो भारतवंशी इसके संयुक्त विजेता बने हैं। 
•    इनमें एक छात्र ने तो यह उपलब्धि सबसे कम उम्र में हासिल की। यह लगातार तीसरा साल है जब भारतीयों ने इसे संयुक्त रूप से जीता है।
•    जयराम जगदीश हथवार (13) और निहार रेड्डी जंग (11) को स्क्रिप्स नेशनल स्पेलिंग बी प्रतियोगिता का संयुक्त विजेता घोषित किया गया है। 
•    कक्षा पांचवीं के निहार टेक्सास के रहने वाले हैं जबकि सातवीं में पढ़ने वाले जयराम न्यूयॉर्क के हैं। 
•    निहार इस प्रतियोगिता को सबसे कम उम्र में विजेता बन गए हैं।
•    कक्षा आठवीं की स्नेहा गणेश कुमार ने तीसरा स्थान हासिल किया। कैलिफोर्निया की रहने वाली स्नेहा पिछले साल पांचवें स्थान पर आई थीं। 
•    निहार ने सफलता का श्रेय अपनी मां को दिया है। जबकि जयराम ने जीत के लिए अपनी भाई श्रीराम को श्रेय दिया है। 
•    श्रीराम 2014 में सहविजेता बने थे। 
•    उस साल श्रीराम हथवार और अंसुन सुजोए को संयुक्त विजेता घोषित किया गया था। 
•    जबकि पिछली साल की प्रतियोगिता को वान्या शिवशंकर और गोकुल वेंकटचलम ने संयुक्त रूप से जीता था।
•    24वें राउंड में निहार ने "गेजेलसाफ्ट" का सही उच्चारण किया जबकि जयराम ने "फेल्डेनक्रेस" को सही तरीके से उच्चारित किया।
•    फाइनल में कुल दस प्रतिभागियों ने जगह बनाई थी। इनमें से सात भारतीय रहे। 

Read More
Read Less
Share

फोर्ब्स की विश्व की 2000 शक्तिशाली कंपनियों में भारत की 56 कंपनियां शुमार

विश्व की 2000 सबसे बड़ी और शक्तिशाली सूचीबद्ध कंपनियों में से 56 भारत में हैं।
•    यह बात फोर्ब्स की सालाना सूची में कही गई, जिसमें 579 कंपनियों के साथ अमेरिका शीर्ष पर है।
•    मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज फोर्ब्स 2015 की 'ग्लोबल 2000' सूची में 56 भारतीय कंपनियों में अग्रणी है।
•    इस सूची में विश्व की सबसे बड़ी कंपनियों की रूपरेखा प्रस्तुत की गई है और इससे स्पष्ट है कि मौजूदा वैश्विक कारोबार परिदृश्य में अमेरिका और चीन प्रभुत्व की स्थिति में है।
•    पहली बार चीन के चार सबसे बड़े बैंक शीर्ष चार स्थानों पर हैं।
•    चीन में विश्व की 232 सबसे बड़ी कंपनियां हैं और यह पहली बार जापान को पार कर अन्य देशों से आगे बढ़ गया है।
•    इधर 218 कंपनियों के साथ जापान तीसरे स्थान पर आ गया है।
•    रिलायंस इंडस्ट्रीज इस सूची में 142वें स्थान पर है जो पिछले साल के 135वें स्थान से नीचे है। रिलायंस का बाजार मूल्यांकन 42.9 अरब डॉलर और बिक्री 71.7 अरब डॉलर रहा है।
•    रिलायंस के बाद भारतीय स्टेट बैंक का स्थान रहा जो 152वें स्थान पर है और उसका बाजार मूल्यांकन 33 अरब डॉलर है।
•    जिन अन्य भारतीय कंपनियों से इस सूची में जगह बनाई उनमें 
•    ओएनजीसी (183), 
•    टाटा मोटर्स (263), 
•    आईसीआईसीअई बैंक (283),
•    इंडियन ऑयल (349), 
•    एचडीएफसी बैंक (376), 
•    एनटीपीसी (431), 
•    टीसीएस (485), 
•    भारती एयरटेल (506), 
•    एक्सिस बैंक (558), 
•    इन्फोसिस (672), 
•    भारत पेट्रोलियम (757), 
•    विप्रो (811), 
•    टाटा स्टील (903) 
•    अडाणी एंटर प्राइजेज (944) 

Read More
Read Less
Share

पंकज आडवाणी विश्व और महाद्वीपीय खिताब एक साथ जीतने वाले विश्व के पहले खिलाड़ी बन गए

भारत के स्टार स्नूकर खिलाड़ी पंकज आडवाणी ने 22 मई 2016 को अबुधाबी में एशियाई 6-रेड स्नूकर खिताब जीता. इस जीत के साथ आडवाणी 6-रेड में विश्व और महाद्वीपीय खिताब दोनों को एक साथ जीतने वाले विश्व के पहले खिलाड़ी बन गए हैं.
•    आडवाणी का यह इस वर्ष का पहला खिताब है.
•    उन्होंने फाइनल में मलेशिया के शीर्ष वरीयता प्राप्त कीन हो मो को 7-5 से हराकर खिताब अपने नाम किया.
•    फाइनल में आडवानी ने अच्छी शुरुआत की और पहला फ्रेम 39-4 से जीता लेकिन वह दूसरा फ्रेम 6-51 से हार गए. इसी क्रम में आडवाणी ने तीसरा फ्रेम 40-14 जीता लेकिन चौथा फ्रेम 0-37 से हार गए.
•    पांचवें और छठे फ्रेम में क्रमश: 41-7 और 44-8 के अंतर से जीत हासिल की।. छह फ्रेम के बाद आडवानी 4-2 से बढ़त पर थे लेकिन कीन हो मो ने सातवां फ्रेम 38-21 से जीतकर अच्छी वापसी की.
•    आडवाणी ने आठवां फ्रेम 45-24 से जीतकर फिर से अपनी बढ़त मजबूत कर ली.
•    फाइनल में आडवानी ने 12 वां फ्रेम 53-24 से खिताब जीत लिया.
•    महाराष्ट्र के पुणे में जन्में पंकज आडवाणी बिलियर्डस एवं स्नूकर के खिलाड़ी हैं.
•    पंकज ने अपना पहला खिताब 18 वर्ष की आयु में जीता था और स्नूकर और बिलियर्डस दोनों वर्गों में खिताब जीतने वाले पहले एशियाई हैं.
•    पंकज राजीव गांधी खेल रत्न सम्मान से सम्मानित होने वाले सबसे युवा भारतीयों में से हैं.
•    पंकज को अर्जुन अवार्ड और पद्मश्री अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है.
•    पंकज आडवाणी विश्व के एक मात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने आईबीएसएफ विश्व बिलियर्डस चैम्पियनशिप में प्वाइंट और टाइम फार्मेट ख़िताब एक साथ दो बार वर्ष 2005 और 2008 में जीता था.

Read More
Read Less
Share

विश्व की सबसे बड़ी क्रूज जहाज " हारमनी ऑफ द सी " ने शुरू की अपनी पहली यात्रा

संसार की सबसे बड़ी क्रूज शिप हारमनी ऑफ द सी पहली यात्रा के आगाज़ के लगभग 70,000 लोग गवाह बने। 
•    जहाज 120,000 टन वजनी,  66 मीटर लम्बी है .
•    यह दुनिया का सबसे चौड़ा जहाज है जबकि इसकी लंबाई 362 मीटर है 
•    यह पेरिस के एफिल टावर से भी 50 मीटर की ऊंचाई पर है। 
•    हारमोनी ऑफ द सी को अमेरिका के रॉयल कैरेबियन क्रूज़ेज़ लि. के लिए बनाया गया है। 
•    इस तैरते हुए शहर में 16 डेक हैं जो कि 6360 यात्रियों और 2100 क्रू सदस्यों को ले जाने में सक्षम है। •    इससे पहले टाइटैनिक को सबसे बाद जहाज के रूप में जाना जाता है 
•    हॉलीवुड ने जब इस पर आधारित एक फिल्म बनाई उसके बाद टाइटैनिक को सभी जान गये । 
•    नए क्रुज़ में टाइटैनिक से बेहतर सुविधा, होने के साथ साथ आलिशान इंटीरियर का भी ध्यान रखा गया है . 
•    माना जा रहा है की इससे बड़ी जहाज का बन पाना लगभग नामुमकिन है 

Read More
Read Less
Share

मलेशिया की महिलाओं ने दुनिया की सबसे लंबी गलीचे की बुनाई की

बोर्नियो, मलेशिया में 400 से अधिक महिला बुनकरों को गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स खिताब से सम्मानित किया गया. हाथ से बानाए गये इस दुनिया के सबसे लम्बे गलीचे की लम्बाई करीब 1128.272 मीटर है •    गलीचे को स्थानीय संस्कृति और परंपरा के एक प्रतीक के रूप में बनाया गया था।
•    इसकी शुरुवात एक स्थानीय महिला संगठन पेंग दोह बेलगा ने की ।
•    पूरा गलीचा महिलाओं द्वारा हाथ से बुना गया था 
•    गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के मुताबिक इससे पहले भी एक ऐसा ही गलीचा था लेकिन उसकी लम्बाई मात्र 797.51 मीटर थी और ये स्वीडन में बनाया गया था 
•    मलेशिया दक्षिण पूर्व एशिया में स्थित एक उष्णकटिबंधीय देश है। यह दक्षिण चीन सागर से दो भागों में विभाजित है।
•    मलय प्रायद्वीप पर स्थित मुख्य भूमि के पश्चिम तट पर मलक्का जलडमरू और इसके पूर्व तट पर दक्षिण चीन सागर है। 
•    देश का दूसरा हिस्सा, जिसे कभी-कभी पूर्व मलेशिया के नाम से भी जाना जाता है, दक्षिण चीन सागर में बोर्नियो द्वीप के उत्तरी भाग पर स्थित है। 
•    यह 13 राज्यों से बनाया गया एक एक संघीय राज्य है।

Read More
Read Less
Share

51 डिग्री सेल्सियस तापमान ने भारत में तोड़े सभी रिकॉर्ड

राजस्थान के फलौदी में तापमान 51 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.
•    ये भारत में अब तक का दर्ज किया गया सबसे ज़्यादा तापमान है.
•    इससे पिछला रिकॉर्ड 60 साल पहले 50.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.
•    मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि आगे भी गर्मी का कहर जारी रहेगा.
•    प्रशासन ने इस संबंध में बैठक की है लेकिन ज़मीनी स्तर पर गर्मी से बचाव की कोई सरकारी कोशिश अभी नहीं दिख रही है.
•    अख़बारों और सोशल मीडिया पर गर्मी की चर्चा से थोड़ा सनसनी तो ज़रूर है लेकिन बाकी ज़िंदगी अपनी तरह से चल रही है.
•    तीन दिन पहले गर्मी से एक मज़दूर की मौत हुई थी 
•    बच्चों और बुज़ुर्गों को बचाने पर ख़ास ध्यान दिया जा रहा है.
•    सिर्फ़ राजस्थान ही नहीं, भारत के कई अन्य इलाक़े भी इस समय भीषण गर्मी झेल रहे हैं.

Read More
Read Less
Share

दुनिया का पहला रोबोट वकील

एक अमेरीकी विधि कंपनी ने अपने कार्यालय में रोबोट वकील की नियुक्ति की है। इस रोबोट का नाम रॉस है और यह दुनिया का पहला ऐसा रोबोट है जो कानूनी मसलों को सुलझाने में मदद करेगा।
•    कंपनी रॉस की सेवाएं दिवालियापन और ऋण अधिकारों से संबंधित मामलों में लेगी। 
•    बेकरहॉस्टेटलर कंपनी ने रॉस को अपने कार्यालय में कानूनी शोध का कार्य सौंपा है। वह यहां कार्यरत वकीलों के लिए शोध का कार्य करेगा।
•    रॉस में सोचने-समझने की क्षमता (कॉग्निटिव कम्प्यूटिंग) मौजूद है। 
•    जिससे कंपनी में काम करने वाले वकील उससे सवाल कर सकते हैं और रॉस कानूनी रूप से तथ्य आधारित उत्तर देगा। रॉस चौबीस घंटे कोर्ट के आदेशों पर भी ध्यान रखेगा, जिससे केस पर आए किसी नए आदेश से वकीलों को तुरंत अवगत करा सके।
•    सही तरीके से काम करने के लिए वह निरंतर वकीलों से कानूनी ज्ञान भी लेता रहेगा।
•    रॉस रोबोट का निर्माण करने वाली रॉस इंटेलीजेंस कंपनी ने साल 2014 में यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो में इस पर शोध करना शुरु कर दिया था।
•    इसके निर्माण के बाद इसे कानूनी चीजें सीखाई गईं।

Read More
Read Less
Share

बेटी फिल्म को सीएटल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में आमंत्रित किया गया

   गर्ल चाइल्ड एजुकेशन पर ये 4 मिनट की डाक्यूमेंट्री को 42 वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल के में आमंत्रित किया गया है 
•    फिल्म को बनाया है चंडीगढ़ के स्टूडेंट फिल्म मकर शिवेन अरोरा नेफिल्म में लड़की की पढ़ाई से जुडी बातें बताई गयी हैं जो सामाजिक  चीजें होती हैं  
•    चंडीगढ़ की तीन लड़कियों की कहानी, जिसे चंडीगढ़ के ही स्टूडेंट्स ने शूट किया। 
•    अब यह डॉक्यूमेंट्री देश की इकलौती फिल्म बन गई है, जिसे सीएटल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल वॉशिंगटन में शॉर्ट फिल्म कैटेगरी में 30 मई को दिखाया जाएगा। ‘बेटी’ नामक की इस डॉक्यूमेंट्री को चंडीगढ़ के विभिन्न प्राइवेट स्कूलों के स्टूडेंट्स ने शूट किया और गवर्नमेंट स्कूल के स्टूडेंट्स ने इसमें एक्टिंग की।

•    यह फिल्म जिन पर फीचर की गई है, उसके कहानी व किरदार रील नहीं रियल हैं। इसकी घोषणा रविवार को प्रेस क्लब सेक्टर-27 में प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए की गई।
•    यंग फिल्म मेकर्स एकेडेमी की हेड श्वेता पारेख ने बताया कि फिलहाल पांच स्टूडेंट्स इस फेस्टिवल का हिस्सा बनेंगे। फिल्म फेस्टिवल को यह स्टूडेंट्स शूट भी करेंगे। 
•    बाद में फिल्म फेस्टिवल की भी फिल्म बनाई जाएगी।
•    फिल्म को बनाने से पहले इन स्टूडेंट्स ने फिल्म मेकिंग के गुर सीखे पर्पल पीपल्स लैब की यंग फिल्म मेकर्स एकेडेमी में। इसके बाद एकेडमी के बैनर तले फिल्म को शूट किया गया। 
•    डायरेक्शन, प्रोडक्शन जैसे हर पहलू के लिए 12 स्टूडेंट्स का क्रू था। सेंट कबीर स्कूल सेक्टर-26 और विवेक हाई स्कूल सेक्टर-38 के 12 स्टूडेंट्स ने मिलकर इसे शूट किया, जबकि गवर्नमेंट मॉडल स्कूल सेक्टर 27 की तीन स्टूडेंट्स ने इसमें एक्टिंग की।

Read More
Read Less
Share

अक्षय ऊर्जा में निवेश आकर्षित करने में तीसरे स्थान पर भारत

भारत सोलन एनर्जी और दूसरे अक्षय ऊर्जा विकल्प  के क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रहा है। 
•    अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में देश के आकर्षण संबंधी सूचकांक में भारत तीसरे स्थान पर हैं। 
•    इसमें पहले और दूसरे स्थान पर क्रमश: अमेरिका तथा चीन हैं।

•    रेटिंग एजेंसी अर्नस्ट् एंड यंग की एक रिपोर्ट के अनुसार, इसका मुख्य कारण भारत सरकार का अक्षय ऊर्जा पर जोर के साथ नवीन एवं नवीकरणीय उर्जा परियोजनाओं का समय पर क्रियान्वयन है।
•    अन्स्र्ट एंड यंग के बयान के मुताबिक सूचकांक में उभरते बाजारों की हिस्सेदारी आधी है। 
•    वहीं शीर्ष 30 देशों में चार अफ्रीकी देशों को जगह मिली है। 
•    एक दशक पहले केवल चीन तथा भारत इस मामले में आकर्षक गंतव्य थे और अक्षय उर्जा निवेश के मामले में विकसित देशों से प्रतिस्पर्धा कर रहे थे। 
•    चिली, ब्राजील तथा मैक्सिको सूचकांक में उपर आये हैं जबकि जर्मनी तथा फ्रांस की रैंकिंग घटी है।

Read More
Read Less
Share

डॉक्टरों की टीम ने अमेरिका में किया पहला लिंग प्रत्यारोपण

अमेरिका में डॉक्टेरों ने पहली बार किसी पुरुष के गुप्तांग का सफल प्रत्यारोपण किया है। 
•    साल 2012 में थॉमस मैनिंग (64) के पुरुष जननांग में कैंसर हो गया था, जिसके चलते उसे काटना पड़ा था। 
•    मैसाचुसेट्स जनरल हॉस्पिटल में 15 घंटों के लंबे ऑपरेशन में 50 से अधिक डॉक्टरों और नर्स की टीम ने काम किया था।
•    ट्रांसप्लांट का यह ऑपरेशन 8 और 9 मई को 15 घंटे तक चला। 
•    डॉक्टरों ने इस प्रक्रिया को चिकित्सा के क्षेत्र में मील का पत्थंर करार दिया है। प्रत्यारोपण के लिए लिंग एक मृतक डोनर से मिला था। 
•    यह सर्जरी एक रिसर्च कार्यक्रम का हिस्सा है, जिसका उद्देश्य कैंसर या दुर्घटना के कारण गुप्तांग खो चुके लोगों की मदद करना है। 
•    इस ऑपरेशन को प्लास्टिक सर्जन डॉ. कर्टिस एल सेट्रुलो के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम ने पूर्ण  दिया। 
•    इससे पहले अभी तक सिर्फ 2 बार लिंग का ट्रांसप्लांट किया गया है। 
•    पहला प्रत्याीरोपण साल 2006 में चीन में किया गया था, लेकिन वह कामयाब नहीं हुआ। 
•    दूसरा ट्रांसप्लांट, साल 2014 में दक्षिण अफ्रीका में हुआ, जिसके बाद वह व्यक्ति एक बच्चे का पिता भी बना। 

Read More
Read Less

All Rights Reserved Top Rankers